अति नक्सल प्रभावित इलाकों में सामाजिक सहयोग एवं समग्र विकास के समर्पण की दिशा में एक और कदम

34

दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़।231 वीं वाहिनी सीआरपीएफ के द्वारा नक्सल प्रभावित इलाकों के ग्रामीणों में सुरक्षाबलों के प्रति विश्वास और सौहार्दपूर्ण संबंध स्थापित करने के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम मे आज दिनांक 07-01-2024 को 231 वी वाहिनी केरिपुबल के द्वारा उच्च अधिकारियों के दिशा निर्देशन मे और श्री सुरेंद्र सिंह, कमाण्डेंट 231 बटालियन के मार्गदर्शन में कमलपोस्ट कैंप मे सिविक एक्शन प्रोग्राम एवं मेडिकल कैंप आयोजित किया गया। इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य कमलपोस्ट कैंप के आसपास के गाँव कोंडापारा, उत्तमपारा, पोरो-गुमड़ी, बंदीपारा और कोटवारपारा के लोगो को जरुरतमंद सामग्री का वितरण करना एवं उनके स्वास्थ की जांच करना था। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता सहायक कमाण्डेंट श्री चुंडी नागा नरसिम्ह देव ने की। कार्यक्रम मे कोंडापारा, उत्तमपारा, पोरो-गुमड़ी, बंदीपारा और कोटवारपारा गाँव के गरीब ग्रामीणों एवं महिलाओ को मच्छरदानी, सोलर स्ट्रीट लाइट्, विद्यार्थियो को किताबें, नोटबुक, पेन तथा बच्चो एवं युवाओं को बैट, बॉल, कैरम बोर्ड, वॉलीबॉल, फुटबॉल और बैडमिंटन आदि खेल सामग्री वितरित की गयी। इसके साथ ही आयोजित चिकित्सा शिविर मे चिकित्सा अधिकारी डॉ. श्री रवि प्रकाश सुनकर के द्वारा कार्यक्रम मे भाग लेने वाले ग्रामीणो के स्वास्थ्य की जांच की गयी एवं बीमार लोगो का इलाज़ किया गया।

सप्ताह का चौथा सिविक एक्शन कार्यक्रम:-

231 वी वाहिनी केरिपुबल, बस्तर के अत्यंत नक्सलग्रस्त क्षेत्र के लोगो के जीवन मे सुधार एवं सुरक्षाबलो और ग्रामीणों के मध्य मधुर संबंध बनाने के लिए पहले से ही प्रयासरत है। वाहिनी के परिचालनीक क्षेत्र के आस पास के गाँव के गरीब लोगो की दैनिक जरूरतों को ध्यान मे रखते हुए एवं गाँव वालो का विश्वास हासिल करने के उद्देश्य से वाहिनी के द्वारा आयोजित इस सप्ताह का यह चौथा सिविक एक्शन शिविर था।श्री सुरेंद्र सिंह कमांडेंट, 231 बटालियन, ने कहा कि सुरक्षाबलों द्वारा ग्रामीणों के लिए यह विकासात्मक कार्य मजबूत और गहरे बंधनों का स्रोत बनेंगे, जो भविष्य में विकास और शांति की दिशा में मील का पत्थर साबित होंगे।