अवैध गांजे के धंधे में लिप्त अंतरप्रांतीय तस्कर फंसा जीआरपी के फंदे में

146

दिलदारनगर(गाजीपुर)।पूर्व मध्य रेलवे के पीडीडीयू जं के प्लेटफार्म नंबर7/8 के पश्चिमी छोर के पास से जीआरपी डीडीयू व आरपीएफ के संयुक्त चेकिंग अभियान में एक अंतरप्रांतीय गांजा तस्कर रविवार की सुबह 4:45 बजे जीआरपी तथा आरपीएफ की संयुक्त टीम के हत्थे चढ़ गया।जिसके पास से भारी मात्रा में गांजा बरामद गया।जिसको एनडीपीएस एक्ट में जेल भेज दिया गया।पकड़ में आया तस्कर बिहार प्रांत से गांजे की खेप ट्रेन से लेजाकर दिल्ली में ऊंचे दामों पर बेचने का काम करता हैं।जीआरपी डीडीयू के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पकड़ में आया अंतरप्रांतीय तस्कर अजय चौधरी उर्फ किरी पुत्र शिव जी चौधरी बिहार प्रांत के बक्सर जिला के मल्लाह टोला मॉडल थाना बक्सर का निवासी है।ट्रेनों में आपराधिक घटनाओं के रोकथाम तथा प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव को लेकर विभागीय उच्चाधिकारियों के दिशा निर्देश पर जीआरपी डीडीयू के प्रभारी निरीक्षक सुरेश कुमार सिंह और आरपीएफ डीडीयू थाने के प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार के द्वारा जीआरपी उपनिरीक्षक मनोज यादव और आरपीएफ उपनिरीक्षक शीतला प्रसाद की टीम रेलवे परिसर और प्लेटफॉर्म पर संदिग्धों की चेकिंग कर रही थी उसी दौरान प्लेटफॉर्म संख्या7/8 के पश्चिमी छोर पर एक युवक हाथ में ट्राली बैग लिए संदिग्ध नजर आया।जब टीम द्वारा उसको पास बुलाकर पूछताछ की गई तो युवक सकपका गया जब उसके ट्राली बैग की तालाशी ली गई तो 5किलो आठ सौ पच्चासी ग्राम गांजा बरामद हुआ।जीआरपी डीडीयू के प्रभारी निरीक्षक सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि बरामद नाजायज गांजे की अनुमानित कीमत एक लाख पांच हजार 930 रुपये होगा।पूछताछ में युवक ने बताया कि वह बिहार से गांजा का खेप लेजाकर दिल्ली में ऊंचे दामों पर बेचने का काम करता था।