ओपी के चुनाव हारने के बाद नहीं मेरे कलेजे को ठंडक मिलेगी : चंचल सिंह 

162

गाजीपुर।जहुराबाद विधानसभा 377 के अंतर्गत मरदह ब्लाक क्षेत्र के गांई गांव में उमेश सिंह दरवाजे पर शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के समर्थन में भाजपा एम.एल.सी विशाल सिंह चंचल ने भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने अपने पांच साल के शासन काल में हर वर्ग को लाभ पहुंचाया।किसान,गरीब,मजदूर, नौजवान,के उत्थान के साथ राष्ट्रहित में देश की सरकार ने कई अनूठे कार्य किए हैं,जिसके माध्यम से पूरे विश्व में भारत का डंका बजने लगा है।गांई गांव में भाजपा प्रत्याशी पूर्व विधायक कालीचरण राजभर के समर्थन में नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे।उन्होंने कहा कि सपा, बसपा,कांग्रेस के शासन काल निशाना साधते हुए कहाँ की भाजपा सरकार ने 2019 पुलवामा कांड का बदला पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक कर लिया था।अयोध्या में श्रीराम मंदिर का निर्माण शुरू कराया।कश्मीर से बिना किसी प्रतिरोध के धारा 370 हटाना,घर-घर में शौचालय,गरीबों को आवास, किसानों को किसान सम्मान निधि,वैक्सीन की डबल डोज व राशन भी डबल दिलाने जैसे काम किए।एम.एल.सी ने जनता से अधिक से अधिक मतदान करने के लिए कहा कि कोई भी व्यक्ति सात तारीख को मतदान करने से वंचित न रहे।गठबंधन प्रत्याशी सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पर पर निशाना साधते हुए कहाँ की जब यह चुनाव मेरी प्रतिष्ठा का सवाल है जब तक यह चुनाव नहीं हारेगें मेरे कलेजे को ठंडक नहीं मिलेगी।सिर्फ यह व्यक्ति अपने परिवार का भला चाहता है जिस कारण परिवादवादी पार्टी के पास गया। 18 टिकट में सिर्फ दो राजभर भाई को टिकट मिला एक खुद व एक अपने पुत्र को।बाप बेटा दोनों बुरी तरह चुनाव हार रहे हैं।कालीचरण राजभर को चुनाव जीतने पर इनसे बड़ा नेता बनाया जाएगा।कहाँ की पहले राजभर बस्ती में जाकर कहते थे मुर्गी खईलस भरौटी में अंडा दिहलस चमरौटी में,अब जहाँ गठबंधन किए हैं व मुर्गी व अंडा दोनों खा जाएगे इनको पता नहीं चलेगा।सपा सरकार में सैफई महोत्सव होता था जहाँ बाप बेटे ठंड के मौसम बिना कंबल के नाच देखते थे,अब अयोध्या में महोत्सव हो रहा है।जाट भाइयों ने गठबंधन से किनारा करके भारतीय जनता पार्टी को खुलकर वोट दिया है।जिससे यह तय है योगी जी ही फिर से आएगे।भाजपा प्रत्याशी कालीचरण राजभर ने गठबंधन प्रत्याशी सुभासपा के अध्यक्ष पर तीखा हमला करते हुए कहाँ की राष्ट्रीय अध्यक्ष लिख लें या अंतरराष्ट्रिय अध्यक्ष हार तय हैं, जमानत जब्त करवा दूगां।पांच वर्ष के कार्यकाल में वर्तमान विधायक का विकास कार्य से वास्ता नहीं सिर्फ दूसरे को गाली देनें में बीता दिया जिसका जबाब जहुराबाद की जनता जमानत जब्त करके देगी।ओपी राजभर जहुराबाद विधानसभा से चुनाव लड़कर चक्रव्यूह में फंस गए।कार्यक्रम की शुरुआत डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी व पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर पुष्पांजलि व दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।इसके अलावा पतार, सिपाह,डाही में भी सभा की गई।

गांई में भाजपा प्रत्याशी कालीचरण राजभर,जिला चुनाव प्रभारी अशोक मिश्रा, जहुराबाद प्रभारी इन्द्रकुमार सिंह,श्यामराज तिवारी,अवधेश राजभर,प्रमुख पति धर्मेन्द्र कुमार सिंह मंटू,प्रतिनिधि धर्मेन्द्र कुमार सिंह चमचम,पप्पू सिंह,प्रदीप पाठक,राजकुमार सिंह झाबर, शशीप्रकाश सिंह,अनुराग सिंह,प्रवीण पटवा, चन्द्रभान सिंह,धनंजय चौबे,अमरजीत सिंह, अरविन्द सिंह,अजय सिंह,धनंजय ओझा,मुकेश कन्नौजिया,अमित सिद्धार्थ,उत्कर्ष राय,धर्मेन्द्र राय, चतुर्भुज सिंह,अभिषेक सिंह,रविप्रताप सिंह, भगवती शरण दूबे,अशोक सिंह,सुधांशु शेखर सिंह,आदि लोग मौजूद रहे।