कर्मियों के सहयोग से महिला ने एम्बुलेंस में जना बच्चा,दोनों स्वस्थ 

200

मरदह गाजीपुर।दर्द से कराह रही एक महिला ने एंबुलेंस में ही बच्चे को जन्म दिया।एंबुलेंस कर्मचारियों ने परिजनों के सहयोग से सुरक्षित प्रसव कराया।जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ।दोनों को नजदीक के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।जहाँ से प्राथमिक उपचार के बाद घर के लिए छोड़ दिया गया।मरदह ब्लाक के गोविन्दपुर कीरत मठिया गांव निवासी अरविंद राम की पत्नी अर्चना देवी 24 वर्ष को बुधवार की देर रात को प्रसव पीड़ा हुई।स्वजन ने 102 एंबुलेंस सेवा को काल की।लगभग 15 मिनट में ही UP 41 G 1027 एंबुलेंस पहुंचकर महिला को लेकर अस्पताल के लिए चली लेकिन कुछ दूरी पर ही महिला को एंबुलेंस में पीड़ा ज्यादा बढ़ गई तो परिजनों कि राय पर पायलट हीरालाल यादव यादव ने रास्ते में ही एंबुलेंस को रोक दिया और ईएमटी (इमरजेंसी मेडिकल तक्नीशियन) अरविंद कुमार ने डिलीवरी किट के माध्यम से महिला का सुरक्षित प्रसव कराया।अर्चना देवी ने बेटा को जन्म दिया।इसके बाद जच्चा-बच्चा को नजदीक के स्वास्थ्य केंद्र मरदह में रूटीन चेंकप कराया गया जहां दोनों स्वस्थ पाए गए।इस दौरान पायलट हीरालाल यादव और ईएमटी अरविंद कुमार की भूमिका अहम रही।इस सराहनीय कार्य के लिए प्रभारी चिकित्साधिकारी डा.सरफराज आलम,डा.अशोक कुमार सिंह सहित सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों काफी प्रशंसा व्यक्त किया।