कैथी तक इलेक्ट्रिक बस संचालित किये जाने की मांग की गयी 

217

कैथी वासियों ने क्षेत्रीय प्रबंधक, रोडवेज को सौंपा ज्ञापन 

 

लम्बी दूरी की बसों का कैथी में फेयर स्टॉप बनाया जाय 

 

 

वाराणसी चौबेपुर।ग्राम कैथी के निवासियों ने वाराणसी के क्षेत्रीय प्रबंधक, उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम को ज्ञापन सौंप कर कैथी तक इलेक्ट्रिक बस का संचालन करने की मांग की है. ज्ञापन में निवेदन किया गया कि जनपद की गाजीपुर से लगी सीमा पर स्थित ग्राम कैथी का पौराणिक, भौगोलिक, आर्थिक और पर्यावरणीय दृष्टि से अत्यंत महत्व है. पवित्र गंगा गोमती संगम और श्री मार्कंडेय महादेव धाम के कारण पर्यटन की दृष्टि से भी इसका महत्व दिनों दिन बढ़ता जा रहा है. सामान्य दिनों में भी प्रतिदिन हजारों की संख्या में पर्यटक यहां आते हैं. चंदौली जिले के टांडा गांव से भी वाराणसी शहर आने जाने के लिए लोग इसी मार्ग का प्रयोग करते हैं . उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा वर्तमान में श्री मार्कंडेय महादेव तक बस सेवा का संचालन किया जाता है लेकिन प्रायः अपर्याप्त है अतः हम क्षेत्रीय ग्रामवासी आपसे निम्न निवेदन करते हैं:

१ वाराणसी कैंट से मार्कंडेय महादेव धाम तक इलेक्ट्रिक बस की सुविधा प्रदान की जाय और फेरों की संख्या कम से कम 10 हो.

२.गाजीपुर, मऊ, गोरखपुर, बलिया आदि रूट पर चलने वाली सभी रोडवेज बसों का दोनों तरफ का फेयर स्टॉप कैथी में बनाया जाय जिससे इन बसों से चलने वाले यात्रियों को अधिक किराये का भुगतान न करना पड़े. पूर्व में कैथी में फेयर स्टॉप बनाया गया था किन्तु अज्ञात कारणों से हटा दिया गया.ग्राम वासियों ने बताया कि उक्त दोनों व्यवस्था होने पर क्षेत्रीय जनता रोडवेज की सेवाओं का अधिकतम उपयोग कर सकेगी और पर्यटकों तथा दर्शनार्थियों को भी सुविधा होगी.ग्रामवासियों की तरफ से सामाजिक कार्यकर्ता प्रदीप सिंह ने क्षेत्रीय प्रबंधक के. के. तिवारी को दिया उन्होंने सकारात्मक कार्यवाही का आश्वासन दिया।