गाजीपुर के पत्रकारों में बलिया प्रशासन के खिलाफ भारी आक्रोश 

203

गाजीपुर।बलिया जिला प्रशासन द्वारा यूपी बोर्ड परीक्षा में पेपर लीक मामले में बलिया के तीन पत्रकारों की गिरफ्तारी को लेकर जिले के पत्रकारों में काफी आक्रोश है।सोमवार को इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन गाजीपुर की तरफ से पत्रकारों ने काली पट्टी बांधकर राज्यपाल के नाम उपजिलाधिकारी अनिरुद्ध सिंह को पत्रक सौपा जिसमे मांग की गई कि बोर्ड परीक्षा में पेपर लीक मामले में गिरफ्तार किए गए वरिष्ठ पत्रकार दिग्विजय सिंह,अजीत कुमार ओझा एंव मनोज गुप्ता की जल्द से जल्द पुलिस प्रशासन रिहाई करे अन्यथा पूरे प्रदेश में पत्रकारों द्वारा जबरदस्त तरीके से विरोध दर्ज किया जाएगा।एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा बलिया प्रशासन द्वारा पत्रकारों की गिरफ्तारी निंदनीय और घृणित है जिसकी जितनी भी निंदा की जाय वो कम है।प्रदेश सरकार देश के चौथे स्तंभ को भी नही बक्श रही है, प्रशासन नकल माफ़िया की शह पर गलतियों को छिपाने के लिए पत्रकारों को ही गुनहगार मान जेल में डाल दिया।जबकि तीनो पत्रकार सरासर निर्दोष है।अगर जिला प्रशासन पत्रकारों की रिहाई जल्द से जल्द से नही करता है तो पत्रकार सड़क पर उतरकर आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे जिसकी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी।इस दौरान पत्रकारों ने बलिया प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाए।

मौके पर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष सुनील सिंह, प्रभाकर सिंह,काशी नाथ सिंह,अभिषेक सिंह,सुशील तिवारी,अंजनी राय,इकरार खान,आशिफ अंसारी, कृष्ण कुमार मिश्रा,जयप्रकाश,अमित कुमार गुप्ता, विपिन आदि पत्रकार मौजूद रहे।