छोटे भाई के बाद बड़े भाई ने लगाई फांसी,क्षेत्र में मची सनसनी

213

मरदह गाजीपुर।थाना क्षेत्र के स्थानीय गांव निवासी टेन्ट
व्यवसायी का एक कमरे की छत के कुण्डी से लटकता मिला शव क्षेत्र में मची सनसनी।हत्या और आत्महत्या की खबर सुनकर सैकड़ों लोग मौके पर पहुँचें।चारों तरफ लोगों में तरह तरह की चर्चाएं कि जा रही थी।मालूम हो कि स्थानीय गांव निवासी मोहम्मद रहीम अहमद का शादीशुदा 27 वर्षीय बड़ा पुत्र मेराज अहमद अपने गांव के मकान से बुधवार की सुबह परिजनों को बताकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के पीछे स्थित टेंट समान के गोदाम पर साफ सफाई करने गया था।दोपहर तीन बजे के करीब पास से गुज़र रहे ग्रामीणों की नजर खुले कमरे के दरवाजे पर गई तो देखा की मेराज अहमद छत से लटक रहा है जिसकी जानकारी परिजनों को दी मौके पर पहुँचें परिजनों पुलिस को सूचना दी।पुलिस शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया।परिजनों ने हत्या की आशंका ज़ाहिर करते हुए थाने में तहरीर दी।प्रत्यदर्शियों के अनुसार दोपहर 12 बजे तक मृतक बाजार में दिखाई दिया था।मृतक की मां शाहजहाँ बेगम,पिता मोहम्मद रहीम अहमद,छोटा भाई मोहम्मद शेराज,मुक्तकीन अहमद,बहन शबनम व पत्नी जरीना खातून,पुत्र सोएब पांच वर्ष व पुत्र आरिस अहमद एक साल वर्ष का घटना के बाद बेसुध पड़े थे।इस सबंध में थानाध्यक्ष राजकुमार यादव ने बताया कि मृतक के पिता रहीम अहमद के तहरीर पर विधिक कार्यवाही की गई पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद गुत्थी सुलझेगी।इसके पहले बीते वर्ष 2019 में मृतक का छोटा भाई रेयाज अहमद का भी इसी गोदाम में छत की कुन्डी से लटकता हुआ शव पाया गया था परन्तु परिजनों ने पुलिस कारवाई से इंकार कर दिया।अब बीते दो साल बाद उसी जगह पर बड़ा भाई का शव मिला जो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।