जनरल फिजिशियन डा.बी.के. यादव ने विभिन्न रोगों में उचित भोजन की सलाह दी

155

गाजीपुर:जखनियां- जखनिया बाजार स्थित एक निजी नर्सिंग होम के जनरल फिजिशियन डॉक्टर बी यादव से विभिन्न रोगों से ग्रसित रोगी को उचित भोजन करने के सवाल पर बताया कि रोग से ग्रसित व्यक्तियों को मनचाहा भोजन करना नुकसानदेह साबित हो सकता है। अलग-अलग रोग से ग्रसित व्यक्तियों को चिकित्सक के परामर्श से भोजन देना चाहिए। डॉ बीके यादव ने कुछ महत्वपूर्ण रोगों में लिए जाने वाले भोजन की सलाह दी जो निम्न हैं-

*बुखार* – सुपाच्य भोजन का प्रयोग करें जैसे चावल खिचड़ी हरी सब्जी व साग का प्रयोग करना चाहिये।पानी जरूर पीये,ओआरएस,नारियल का पानी,दूध पीये।ठंडा पानी कोल्ड ड्रिंक जैसे कोका कोला इत्यादि का प्रयोग ना करें व मिर्च मसाला तैलीय भोजन से परहेज करें।

*खांसी* -गुनगुना पानी पीये।और काफी,चाय,सूप का प्रयोग करें। सामान्य खाना जो ताजा हो प्रयोग करें। ठंडा पानी फ्रिज का पानी कोल्ड ड्रिंक खट्टे फल,केला का प्रयोग बिल्कुल ना करें।

*दमा/अस्थमा* – तले भोज्य पदार्थ जैसे समोसा पकौड़ा,ठंडा पानी,आइस्क्रीम खट्टा भोजन न लें।

*एसिडीटी* -लम्बे समय तक भूखे न रहें।3-4 घण्टे के अंतराल में थोडा़ थोडा़ भोजन जरुर करें।चाय काफी प्रयोग करने से बचें।भोजन में मिर्च मसाला का प्रयोग न करें।

*डायरिया* – डायरिया की स्थिति बनने पर इलेक्ट्रोलाइट (ओआरएस) का प्रयोग करें। खट्टे प्रिपरेशन जैसे कच्चे आम का पन्ना नारियल पानी, दाल का प्रयोग करें। भोजन में हल्का सुपाच्य भोजन खिचड़ी का प्रयोग करें।

*पीलिया* – तैलीय भोजन से बचें।घी,तैल,फ्राई फुड न लें।चावल,खिचडी दाल का पानी रोटी ले बहुत मसालेदार भोजन से बचें चावल दाल रोटी सब्जी का प्रयोग कर सकते हैं।समय-समय पर ग्लूकोज फ्रूटजूस बिस्किट का प्रयोग करें। पानी हमेशा गर्म करके ठंडा होने पर प्रयोग करें।

*टीबी* – हाई प्रोटीन युक्त भोज्य पदार्थ लें जैसे दूध प्रोटीन पाउडर के साथ मीट मछली अंडा का प्रयोग विशेष रूप से करें।

*किडनी फेल्योर* – इसमें प्रोटीन और कैल्शियम युक्त भोज्य पदार्थ का प्रयोग करें।नमक और पोटेशियम का प्रयोग कम करें। सामान्य रूप से भोजन कर सकते हैं।जब प्रोटीन्यूरिया ज्यादा हो रही हो तो प्रोटीन ज्यादा लेनी चाहिए जिसमें दाल सोयाबीन दूध मीट का प्रयोग करें।

*गर्भावस्था* इस अवस्था में आयरन कैल्शियम मिनरल कार्बोहाइड्रेट की विशेष रूप से आवश्यकता होती है इसलिए हरी सब्जी मीट शुद्ध फल का प्रयोग करें।प्रोटीन के लिए दूध का प्रयोग नित्य करें।दाल चावल का प्रयोग करें।

डा.बी.के. यादव

जनरल फिजिशियन (जखनियां)