झगड़ा में बीच-बचाव करने गए अधेड़ को बुरी तरह पीटा वीडियो वायरल 

160

मारपीट की घटना के बाद बीच बचाव करने गए अधेड़ कृष्णानन्द चौबे को दुकान से खींचकर दर्जन भर युवकों द्वारा पीटने का सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने से ग्रामीणों में आक्रोश वयाप्त मरदह गाजीपुर।थाना क्षेत्र के गांई चट्टी पर गुरुवार की देर शाम को ठेला हटाने के विवाद में छुट्टी पर घर आई महिला दरोगा एवं छुट्टी पर घर आए पीएससी में तैनात सिपाही के बीच जमकर मारपीट हो गयी जिसमें महिला दरोगा के पक्ष के तीन लोग एवं सिपाही के पक्ष के दो लोग घायल हो गए।इस प्रकरण में पुलिस ने दोनों पक्षों के आठ लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।मारपीट की घटना के दौरान बीच बचाव करने गए गांई गांव निवासी अधेड़ कृष्णानन्द चौबे उम्र 58 वर्ष को सिपाही के पक्ष के लोगो द्वारा लात -घुसो से पीटने का वीडियो वायरल हो रहा है।प्राप्त विवरण के अनुसार प्रयागराज में पोस्ट गांई गांव निवासी महिला दरोग़ा अर्चना चौबे अपने जीजा अधिवक्ता सत्यप्रकाश मिश्रा के साथ चारपहिया वाहन से प्रयागराज ड्यूटी के लिए जा रही थी उसी वक्त गांई चट्टी पर पीएसी में तैनात सिपाही श्यामसुंदर के परिवार के लोग सड़क पर ठेला लगाकर टेंट हाउस पर समान उतार रहे थे।ठेला हटाने के विवाद में गाली -गलौज एवं मारपीट शुरू हो गयी।जिसमें महिला दरोगा अर्चना चौबे 28 वर्ष सहित उनकी बहन वंदना चौबे 22 वर्ष,जीजा सत्यप्रकाश मिश्रा 45 वर्ष सहित दूसरे पक्ष के पीएससी में सिपाही श्यामसुंदर 25 वर्ष, ईशु 24 वर्ष घायल हो गए।सभी घायलों का उपचार मरदह प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर कराया गया।अधिवक्ता सत्यप्रकाश मिश्रा की तहरीर पर पीएससी में तैनात सिपाही श्यामसुंदर सहित ईशु,बृजमोहन,मुन्ना राम,गौतम के खिलाफ मारपीट,बलवा,महिला उत्पीड़न एवं नन्दकिशोर राम की तहरीर पर महिला दरोगा अर्चना चौबे,वंदना चौबे,सत्यप्रकाश मिश्रा के खिलाफ मारपीट गाली गलौज एवं एसएसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है।मरदह थानाध्यक्ष राजकुमार यादव ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है।