नेतृत्व के गुणों में लक्ष्य को प्राप्त करना व सबको साथ लेकर चलने की भावना सर्वोपरि:सिस्टर सिंथिया

132

फ़ातिमा स्कूल में हुआ बाल संसद का गठन

 

मऊ।फातिमा स्कूल के प्रांगण में बाल संसद का गठन हेतु अलंकरण समारोह का आयोजन हुआ।जिसका उद्देश्य बच्चों में दूरदर्शिता कर्तव्यनिष्ठा सबको साथ लेकर नेतृत्व की क्षमता का विकास करना उत्तरदायित्व व अनुशासन की भावना को विकसित करना है।उपरोक्त बातें फ़ातिमा स्कूल की प्रधानाचार्य सिस्टर सिंथिया ने समस्त चयनित सदस्यों को अपनी शुभकामनाएं व बधाइयां देते हुए कहा।उन्होंने कहा कि नेतृत्व के गुणों में लक्ष्य को प्राप्त करना व इस दिशा में सहयोगीयों को प्रेरित करना और सबको साथ लेकर चलने की भावना सर्वोपरि है।उन्होंने कहा कि आप मजबूत हों पर उदंड नहीं,दयालु बनने पर कमजोर नहीं,विनम्र हों पर भीरू नहीं है। हेड बॉय बॉय हेड गर्ल तथा समस्त कार्यकारिणी के सदस्यों ने अपने उत्तरदायित्व के निर्वहन व सुचारू रूप से क्रियान्वयन का संकल्प लिया और शिक्षकों के मार्गदर्शन के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की। छात्र-छात्राओं ने निरंतर करतल ध्वनि से सभी का उत्साह वर्धन किया।बाल संसद के चुनाव में हेड बॉय और हेड गर्ल के रूप में रेहान फजल और दीपाली सिंह का चयन किया गया।शास्त्री हाउस के कैप्टन व वाइस कैप्टन के रूप में मनीष खतनानी व मानसी जायसवाल का चयन किया गया। गांधी हाउस के कैप्टन तथा वाइस कैप्टन के रूप में साकेत पांडेय व श्रेया राय, सुभाष हाउस के कैप्टन व वाइस कैप्टन अरित गुप्ता व समृद्धि गुप्ता, नेहरू हाउस करण पहलानी व प्रिया पांडेय का चयन किया गया। स्पोर्ट्स कैप्टन व वाइस कैप्टन के रूप में मोहम्मद दावर व आयुषी पांडे का चयन हुआ। प्रीफेक्ट कैप्टन और वॉइस कैप्टन के रूप में रौनक रतवानी और अंजलि वरदान का चयन किया गया। डिसिप्लिन कैप्टन व वाइस कैप्टन विकास मिश्रा व ऋषि का श्रीवास्तव चुने गए।