पर्यावरण रक्षा जीवन विषयक जिला स्तरीय संगोष्ठी कार्यशाला का आयोजन

141

प्रयागराज।उत्तर प्रदेश पर्यावरण निदेशालय द्वारा आयोजित जिला योजना 21-22 के अंतर्गत उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड प्रयागराज एवं रामा श्रीजन कल्याण संस्थान प्रयागराज द्वारा पर्यावरण रक्षा जीवन रक्षा विषयक जिला स्तरीय संगोष्ठी कार्यशाला का आयोजन हिंदुस्तान एकेडमी प्रयागराज में आयोजित की गई मुख्य वक्ता के रूप में शिक्षक विधायक डॉ सुरेश त्रिपाठी ने अपने उद्बोधन में कहा कि वृक्ष हमारे जीवन के आधार हैं अगर पेड़ पौधे इस धरा पर नहीं होंगे वह हमारे जीवन की परिकल्पना भी संभव नहीं है जरूरत इस बात की है कि हम प्रकृति द्वारा प्रदत्त स्रोतों को सहेज कर रखें मुख्य अतिथि के रूप में शहर उत्तरी के विधायक हर्ष बाजपेई ने समाज को पर्यावरण की रक्षा के लिए आगे आने को कहा साथ ही उन्होंने संस्थान की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिस तरह से ऐसे कार्यक्रम किए जा रहे हैं जरूरत इस बात की है कि इसका प्रचार-प्रसार भी हो और लोगों के इस के प्रति जागरूकता आए विशिष्ट अतिथि के रूप में परिपूर्ण स्थापना वन अनुसंधान केंद्र प्रयागराज की वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ अनीता तोमर ने वन को रोजगार से जोड़ कर कार्यक्रम की रक्षा में अमूल्य योगदान को आगे बढ़ाते हुए कहा कि सामाजिक वानिकी को अपना कर हम इस क्षेत्र में काम करके लुप्त होते पौधों को बचाकर औषधीय गुणों से भरपूर पेड़ों को व्यवसाय से जोड़ा जा सकता है साथ ही पर्यावरण की रक्षा भी की जा सकती है इस अवसर पर सामाजिक वरिष्ठ कार्यकर्ता रजनीकांत ने प्रांत संयोजक एनजीओ प्रकोष्ठ ने अपनी बात रखते हुए कहा कि आज हम सब को पर्यावरण सुरक्षा के लिए दिन प्रतिदिन लोगों को जागरूक करना होगा पेड़ पौधे हमारे लिए पर्यावरण के साथ-साथ हमारी पशु पक्षी का घरौंदा भी है इस गर्मी में हम सबको इसका लालन-पालन अपने पुत्र की तरह करना होगा तभी पर्यावरण बचेगा और हम भी बचेंगे स्वच्छ हवा के लिए नियमित पौधों में पानी अवश्य दें हमारे पूर्वजों ने इसकी व्यवस्था पीपल नीम तुलसी आदि के रूप में की हुई है जो पर्यावरण संतुलन में अहम योगदान देता है उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण विभाग प्रयागराज से श्री राम चरण ने अपने उद्बोधन में कहा कि हमारा विभाग इस दिशा में काम कर रहा है और आओ सकता है जनमानस की व आगे आएं श्रीमती विजयलक्ष्मी सिंह एवं राकेश सिंह ने भी अपने विचार रखे डॉ हर्ष पालीवाल ने अपने विचार रखते हुए कहा कि हमें नदियों तालाबों और पोखर को पुनर्जीवित कर इस दिशा में ठोस पहल करने की आवश्यकता है जितेन नारायण राय एडवोकेट हाई कोर्ट ने कहा कि गंगा यमुना को साफ करने की आवश्यकता ही नहीं पड़ेगी अगर हम अपने स्वार्थ में उन्हें गंदा ना करें कार्यक्रम डॉक्टर शैलेश मौर्य एवं श्रीमती सुमन लता त्रिपाठी एवं सत्वर पांडे ने भी अपने विचार रखे कार्यक्रम का संचालन संस्था के सचिव ओमप्रकाश मिश्र ने किया एवं धन्यवाद ज्ञापन गुड़िया सिंह ने किया कार्यक्रम में मुख्य रूप से रजनीकांत,सौरव कुमार मिश्र,श्रीराम त्रिपाठी,राहुल सिंह,नीलम प्रजापति, रोहित मणि त्रिपाठी,विमलेश्वर,जागृति मिश्रा,साक्षी मिश्रा, रत्ना मिश्रा,रागिनी,सोनू राय,शिल्पी राय,अंजली गोस्वामी आदि सैकड़ों लोग प्रमुख उपस्थित रहे।