पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट की उड़ी महाहर धाम में धज्जियां

195

मरदह गाजीपुर।स्थानीय विकासखंड के पौराणिक महत्व वाले धार्मिक स्थल महाहर धाम शिवस्थली के प्रांगण में स्थित शुलभ शौचालय में छःमाह से ताला लटक रहा है।मालूम हो कि बीते वर्ष 2018 में कॅन्टेनर कारपोरेशन ऑफ इण्डिया लि.नई दिल्ली कार्यदायी संस्था सुलभ इन्टरनेशनल सोशल सर्विस आगेनाइजेशन के माध्यम से संचार /रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा के प्रस्तावित योजना के अंतर्गत तीस लाख रुपये की लागत से शुलभ शौचालय का निर्माण कराया गया।परन्तु दो साल बाद ही उसमें ताला लटकना चर्चा का विषय बना हुआ है।विकास पुरूष कहे जाने वाले पूर्व सांसद मनोज सिन्हा के लोकसभा क्षेत्र जनपद में धार्मिक स्थल के रूप विख्यात शिवस्थली पर सांसद महोदय के प्रस्ताव पर महाहर धाम को विकसित करने के उद्देश्य से तीस लाख कि लागत से शुलभ शौचालय का निर्माण दो वर्ष पूर्व कराया लेकिन आज दो बर्षो के बाद ही शुलभ शौचालय में ताला लटकता मिल रहा है।जिससे क्षेत्र के लोगों में कार्यदायी संस्था के खिलाफ आक्रोश दिख रहा।एक तरह से मान लिया जाएं की स्वच्छ भारत मिशन योजना की खुलेआम धज्जियां महाहर धाम में उड़ रही है।लोगों व मंदिर पर आने वाले श्रद्धालुओं को मजबूर होकर खुले में नृत्य क्रिया के लिए जाना पड़ रहा है।कंटेनर कारपोरेशन आफ इण्डिया लिमिटेड के सामाजिक दायित्व योजना के अन्तर्गत 10 सीटेड सार्वजनिक सुलभ शौचालय महाहर धाम का लोकार्पण पूर्व मंत्री मनोज सिन्हा संचार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) व रेल राज्य मंत्री भारत सरकार द्वारा 4 जनवरी 2018 को सम्पन्न किया था।दो वर्ष शौचालय नियमित रूप से चलाया परन्तु इधर 6 महीने से उसके मुख्य द्वार पर ताला लटक रहा और तो और इसकी सूध लेने वाला ही कोई नहीं दिख रहा है। क्षेत्र के शशिधर सिंह, मौजनाथ गिरी, छोटेलाल पासवान, संतोष यादव, बृजेश सिंह, अजय गुप्ता, गुलाब दास, दत्रादेय पाण्डेय, धर्मराज मिश्रा ने बताया कि शौचालय में ताला बंद होने से श्रद्धालुओं सहित अन्य लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।