पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से तीन नॉन स्टाप बसों की सेवा एक अप्रैल से शुरू

387

अब लखनऊ से 2 घंटे पूर्व पहुंच जाएंगे आजमगढ़ और गाजीपुर

गाजीपुर।पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से बसों का सफर एक अप्रैल से शुरू हो जाएगा।परिवहन निगम की तीन नॉन स्टाप बसें आजमगढ़ व गाजीपुर के लिए चलेंगी। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से होकर जाने से लखनऊ के लोग दो घंटे पहले आजमगढ़ एवं गाजीपुर पहुंच जाएंगे।अभी आजमगढ़ के लिए छह से सात और गाजीपुर के लिए सात से आठ घंटे लगे हैं।वहीं,तीन में से एक एसी व साधारण बस आजमगढ़ जाएगी तो एक साधारण बस से गाजीपुर के यात्री सफर करेंगे। बाद में इस रूट पर एसी और स्लीपर एसी बसें भी चलेंगी।एक तारीख से आजमगढ़ के लिए सुबह 8:00 बजे साधारण सेवा की पवन एक्सप्रेस, सुबह 9:30 बजे 14 जगहों से सफर की सुविधा।पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर अहिमामऊ,चांद सराय,हैदरगढ़ कट, इन्हौना कट,जगदीशपुर कट,सुल्तानपुर/ अयोध्या कट, अंबेडकरनगर/ सुल्तानपुर कट,अंबेडकरनगर / दोस्तपुर कट,अकबरपुर / शाहगंज कट,अहिरौला/माहुल कट,आजमगढ़/ टांडा कट,मुहम्मदाबाद/आजमगढ़ कट,वाराणसी / गोरखपुर कट एवं बलिया / बक्सर कट से सफर की सुविधा मिलेगी।इन कट के पांच से 25 किमी के दायरे में जितने गांव व कस्बे हैं, उनके लोगों का सफर आसान होगा।एसी जनरथ एवं गाजीपुर के लिए सुबह 8:30 बजे साधारण सेवा की बस रवाना होगी।ये उसी दिन लखनऊ वापसी भी करेंगी।आलमबाग से आजमगढ़ एवं गाजीपुर के लिए जाने वाली बसें अहिमामऊ से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर चढ़ेंगी।ये बसें 232 किमी के माइल स्टोन टांडा कट से आजमगढ़ व 295 किमी माइल स्टोन गोरखपुर कट से गाजीपुर की ओर मुड़ जाएंगी।सर्वे टीम के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक डीके गर्ग एवं यातायात अधीक्षक गोपाल दयाल श्रीवास्तव प्वाइंट के हिसाब से किराया तय कर रहे हैं।इस सबंध में पीके बोस,क्षेत्रीय प्रबंधक लखनऊ परिक्षेत्र परिवहन निगम ने बताया कि परिवहन निगम की बसें पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे पर चलाने की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।किराये का निर्धारण करने के लिए दो सदस्यीय टीम का आजमगढ़ एवं गाजीपुर का सर्वे पूरा हो चुका है।