प्रधान ने आंगनबाड़ी केंद्र के अनियमितता की शिकायत सीडीपीओ से किया

201

शिकायत पर पर्यवेक्षक मामले की जांच करने पहुँची

 

वाराणसी।राजातालाब जिले के आराजी लाईन ब्लाक के चित्तापुर ग्राम पंचायत के बंगालीपुर गांव के आंगनवाड़ी केंद्र पर की जा रही अनियमितता की शिकायत ग्राम प्रधान कविता देवी ने आराजी लाईन की बाल विकास परियोजना अधिकारी अंजू चौरसिया से किया है।ग्राम प्रधान ने टेलीफोनीक माध्यम से आंगनवाड़ी केंद्र संचालिका के खिलाफ,बच्चों को वितरित किए जाने वाले पोषाहार न मिलने, आंगनवाड़ी केंद्र अपने नीजी घर से संचालित करने और पोषाहार के गबन का मामला सीडीपीओ के समक्ष उठाया है।इस संबंध में जब सीडीपीओ आराजीलाईन से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि -पर्यवेक्षक सरला साहनी को मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा गया है, अगर आवश्यकता हुई तो वह स्वयं आंगनवाड़ी केंद्र का औचक निरीक्षण करके अनियमितता की जांच करेंगीं”अंजू चौरसिया (बाल विकास परियोजना अधिकारी) जिसके जाँच में शनिवार दोपहर बाद पहुँची पर्यवेक्षक सरला साहनी ने बताया कि मानक के अनुसार पोषाहार वितरण आंगनबाड़ी केंद्र से नहीं कराया जाने हेतु संबंधित आंगनबाड़ी को फटकार लगायी है।सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने बताया कि ऐसे में जब केंद्र और राज्य सरकारें बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए तमाम दावे करती हैं।तो ऐसे में यह अनियमितता का मामला आने से क्षेत्रीय लोगों में काफी असंतोष देखा जा रहा है।अगर देश के भविष्य नौनिहालों को उचित पोषक आहार नहीं मिलता है,तो देश का भविष्य गर्त में चला जाएगा। यह भी कहा कि यह एक केंद्र पर अव्यवस्था नहीं है,यह लगभग समस्या सभी केंद्रों पर लोगों को झेलनी पड़ती है।और अब लोग समस्या के समाधान के लिए संघर्ष करने को तैयार है। अब बच्चों के पोषाहार का बड़ा हिस्सा गबन नही होने दिया जाएगा।हम लोगों ने अंततः निर्णय किया है कि इस अव्यवस्था को जब तक दूर नहीं किया जाएगा,तब तक हम लोग अपना संघर्ष जारी रखेंगें।