बाबा जग्गू दास इंटर कॉलेज बरही के प्रांगण में वित्तविहीन शिक्षकों का बैठक सम्पन्न   

140

मरदह गाजीपुर।बाबा जग्गू दास इंटर कॉलेज बरही के प्रांगण में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ वित्तविहीन गुट गाजीपुर के विधानसभा जंगीपुर की बैठक हुई।जिसमें वक्ताओं से समाजवादी पार्टी को वोट देने के लिए समस्त अध्यापकों से अपील की गई समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर वित्तविहीन शिक्षकों को 5000 मानदेय देने के लिए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है।वित्तविहीन शिक्षक की बैठक में मुख्य अतिथि राघवेंद्र बाबा,जिलाध्यक्ष रामधारी यादव, जंगीपुर विधानसभा के प्रत्याशी/ विधायक डॉ विरेंद्र यादव उपस्थित रहे।वित्तविहीन शिक्षकों को संबोधित करते हुए सपा जिलाध्यक्ष रामधारी यादव ने कहा कि वर्ष-2022 विधानसभा चुनाव में शिक्षा,शिक्षक,छात्र विरोधी भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए घर-घर,जन जन तक संपर्क एवं संवाद के माध्यम से जन जागरूकता पैदा करेगें।चुनाव में बूथ स्तर पर जिम्मेदारी संभालने और हर बूथ पर सपा प्रत्याशी के पक्ष में अधिक से अधिक मतदान के लिए लोगो से अपील करें।और अखिलेश यादव का घोषणा पत्र वचन पत्र है जो अखिलेश यादव ने कहा है उसको पूरा किया है।वित्तविहीन शिक्षकों को संबोधित करते हुए रामधारी यादव ने कहा कि वीरेंद्र यादव चुनाव जीतते हैं तो वित्तविहीन शिक्षकों की जीत होगी।डॉ वीरेंद्र यादव ने कहा की समाजवादी पार्टी की सरकार बनते ही शिक्षकों का मानदेय ₹5000 मिलेगा।और जो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने घोषणा पत्र यह हैं उसमें 22 लाख रोजगार दिया जाएगा और सपा सरकार बनने पर किसान आंदोलन में शहीद हुए किसानों के परिवार को 25 – 25 लाख रुपए की आर्थिक मदद और उनके सम्मान में किसान स्मारक बनाया जाएगा,किसानों को सिंचाई के लिए बिजली मुफ्त दी जाएगी।बीमा एवं पेंशन की व्यवस्था की जाएगी डॉ यादव ने विभिन्न शिक्षकों से अनुरोध करते हुए कहा कि आप लोग जनसंपर्क करके लोगों को बताएं और एक-एक वोट समाजवादी पार्टी के झूले में डालने का काम करें।इस बैठक में मुख्य रूप से रमाशंकर राजभर पूर्व मंत्री, जितेंद्र यादव,रामजन्म यादव,कालिका,सीताराम यादव,सोशल मीडिया प्रभारी आशीष गोंड क्रांति, विधानसभा सचिव जितेंद्र चौहान,पूर्व जिला पंचायत सदस्य रामनारायण यादव,शशिकांत यादव,सुनील यादव सोनू सेक्टर प्रभारी,गायक रवि लाल यादव, वीरेंद्र यादव,अनिल अहिर,मुन्ना सिंह यादव,आशीष चौबे,संतोष चौबे,सुदर्शन यादव प्रधान,महेंद्र प्रधान सहित सैकड़ों संख्या में वित्तविहीन शिक्षक मौजूद रहे।