बेदी राम वापस जाओ, के लगे नारे गठबंधन नेताओं मे भारी रोष

158

गाजीपुर। जखनियां विधानसभा में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी व समाजवादी पार्टी गठबंधन के प्रत्‍याशी के रुप में सोशल मीडिया पर बेदी राम का नाम आते ही स्‍थानीय कार्यकर्ता आक्रोशित हो गये। कार्यकर्ताओं ने स्‍थानीय प्रत्‍याशी की मांग करते हुए बेदी राम का जलालपुर धनी में पुतला फूंक दिया। कार्यकर्ताओं ने बताया कि सुभासपा या सपा किसी का भी स्‍थानीय प्रत्‍याशी होगा तो हम लोग चुनाव भारी मतों से जिताएंगे। अगर बाहरी होगा तो इसी तरह पुतला दहन होगा। जमानत भी जब्‍त हो जायेगा। इस संदर्भ में सुभासपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने पूर्वांचल न्‍यूज डाट काम को बताया कि अभी तक इसकी अधिकारिक रुप से घोषणा नही की गयी है। जब तक हमारा राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी सर्वसम्‍मति से फैसला नही लेगा तब तक प्रत्‍याशी की घोषणा नही होगी। प्रत्‍याशी की घोषणा सर्वसम्‍मति से शीघ्र होगा। ज्ञातव्‍य है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक त्रिवेणी राम सपा के प्रत्‍याशी गरीब राम से मात्र 1800 मतों से विजयी हुए थे। जहाँ आज वर्तमान समय में त्रिवेणी राम का भी पूरजोर विरोध चल रहा है यदि पुनः त्रिवेणी राम आते हैं तो उनको भी भारी विरोध का सामना करना पड़ सकता है। क्षेत्र में गठबंधन के नेता तथा कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलने पर यह पता चलता है कि वह केवल तीन ही नाम पसंद करते हैं विमल सोनकर, विजय कुमार तथा गरीब राम के अलावे और नाम पसंद नहीं है हालांकि क्षेत्र मे मतदाताओं का यह साफ-साफ कहना है कि गरीब राम दो बार आए लेकिन जीत नहीं पाए उनके साथ गुटबाजी हो जाती है। अब देखना है आगे आगे होता है क्या,अब दोनों दलों में गठबंधन हो गया है तो इ‍सलिए टिकट के लिए मारा-मारी हो रही है।