महिला विकास मंच का जिले में विस्तार किया गया 

199

गाजीपुर।राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ना सिर्फ महिलाओं बल्कि अबोध बालिकाओं के साथ दरिंदगी की घटनाएं दहेज उत्पीड़न घरेलू हिंसा कार्यस्थल एवं सार्वजनिक संस्थानों प्रतिष्ठानों में महिलाओं के यौन शोषण की घटनाएं प्रायःप्रकाश में आती रहती है। न्यायालयों एवं कार्यालयों में परिवारिक परिवाद की घटनाएं चर्चा की विषय रहती है।जो महिला उत्पीड़न की श्रेणी में आती है।इस तरह के प्रकरण में पीड़िता चाहे वह अबोध बालिका हो अथवा विवाहित बेटिया बहू हो उसकी सामाजिक सुरक्षा पुनर्वास या जीवन यापन हेतु आवश्यक हर प्रकार का सहयोग देने का कार्य महिला विकास मंच द्वारा देश के विभिन्न राज्यों में मंच की राष्ट्रीय संरक्षक वीणा मानवी,अध्यक्ष अरुणिमा,चेयरमैन पीके चौधरी सहित राष्ट्रीय कमेटी के द्वारा किया जा रहा है।उत्तर प्रदेश में महिला विकास मंच की प्रांतीय अध्यक्षा अनीता नीतू जयसवाल के टीम के द्वारा किया जा रहा है।जनपद गाजीपुर में शनिवार को हुई शहनाई पैलेस बंधवा पीरनगर की बैठक में इस मंच की जिम्मेदारी के निर्वहन हेतु जनपद अध्यक्ष मधु यादव,कार्यकारणी अध्यक्ष डॉ पंकज दुबे,सचिव राजेश जायसवाल, संरक्षक मोहम्मद आलमगीर,उपाध्यक्ष सुप्रिया जायसवाल,उपसचिव प्रीति सिंह,महामंत्री अमित सिंह,काउंसलर डॉ.शिवांगी, जिया कादिर,कॉमन लीगल एडवाइजर अशरफ उल्लाह,क्षमा त्रिपाठी, मीडिया प्रभारी सुजीत कुमार सिंह,युवा जिलाध्यक्ष हिमालय जायसवाल,कोषाध्यक्ष संपत राम,सांस्कृतिक प्रकोष्ठ मिश्री लाल निषाद,का जनपद में महिलाओं तथा पुरुषों के साथ हो रहे किसी प्रकार के उत्पीड़न के खिलाफ आवाज उठाने एवं उसका कानूनी प्रतिकार हेतु राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा अधिकृत किया गया है।इस मौके पर राष्ट्रीय संरक्षिका श्रीमती विरमानी,जयकिशन साहू विधायक सदर,बेदी राम विधायक जखनियां उपस्थित रहे।