मेले में झूला की डोली टूटने से चार गंभीर रूप से घायल,दो वाराणसी रेफर,स्थिति चिंताजनक 

395

मरदह गाजीपुर।मंगलवार को शिवरात्रि के अवसर पर महाहर धाम पर लगे मेले में उस वक्त बड़ा हादसा होते होते बच गया जब चरखी का एक झूला अचानक टूट गया जिससे मौके पर चार बच्चे घायल हो गए।घायलों को आनन-फानन में इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहाँ उनका इलाज चल रहा है।हादसा 5 बजे शाम के करीब हुआ जब मेले में लगा झूला पूरी क्षमता के साथ चक्कर ले रहा था।उस समय झूला पूरी तरह भरा पड़ा था,और काफी रफ्तार से चल रहा था।इस दौरान एक झूला की डोली टूट गया झूला टूटता देख कुछ लोग झूले से कूद भी गए।हादसे की वजह झूले की बैरिंग खराब बताई जा रही है।बावजूद इसके झूले वाले की लापरवाही के चलते ये हादसा हुआ।हादसे के वक्त मौजूद लोगो में हड़कंप मच गया।फिलहाल पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए घायलों को आनन-फानन में चिकित्सा के लिए भेजवाया और भीड़ को मौके से हटाया।झूले के अचानक टूट कर गिर जाने से दो बालक व दो बालिका गंभीर रूप से घायल।मालूम हो कि सुलेमापुर देवकली गांव के मिथिलेश गुप्ता का बड़ा पुत्र आलोक गुप्ता 17 वर्ष व छोटा पुत्र आदित्य गुप्ता 10 वर्ष तथा इसी गांव के गुपेश गुप्ता की 12 वर्षीय बड़ी पुत्री स्नेहा गुप्ता व 10 वर्षीय छोटी पुत्री सोनी गुप्ता गंभीर रूप से घायल हो गये।ग्रामीणों व पुलिस के सहयोग से चारों को आनन फानन में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मरदह लाया गया जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद आलोक गुप्ता व स्नेहा गुप्ता को गंभीर चोट लगने के कारण ट्रामा सेंटर वाराणसी रेफर कर दिया गया।तथा आदित्य गुप्ता व सोनी गुप्ता का इलाज महेगवाँ गांव स्थित निजी अस्पताल में चल रहा।इस घटना के दौरान कुछ पल के लिए मेला परिसर में अफरा तफरी का माहौल बन गया था।लेकिन पुलिस प्रशासन ने संभाल लिया।