योगी सरकार को ठेंगा दिखा रहा बिजली विभाग उड़ रही खुलेआम सरकार की धज्जियां का जिम्मेदार कौन 

39

गाजीपुर।बिजली विभाग के कामकाज का तरीका भी अजूबा,गांव में खंभे लगे न ही तार खींचे गए,फिर भी इसके बावजूद भी बिजली कनेक्शन कागजों में दे दिए गए। उपभोक्ताओं कनेक्शन की रसीद भेज दी गई,उपभोक्ता अधिकारियों के चौखट के चक्कर लगा रहे हैं।मामला विद्युत उपकेंद्र बिरनो से जुड़ा है मरदह ब्लाक के बरही दलित बस्ती के गरीब दो दर्जन पीड़ित परिवारों ने इस सम्बंध में एसडीओ संतोष कुमार चौधरी को शिकायती पत्र देकर बिना खंभा बिजली कनेक्शन के भारी भरकम बिजली बिल देने का विरोध जताया और मांग किया कि गांव में खंभे और तार लगवाकर विद्युत आपूर्ति कराया जाए।विद्युत उपकेंद्र बिरनो के एरिया ग्राम पंचायत बरही दलित बस्ती में लगभग दो दर्जन परिवारों के घर पर ना बिजली कनेक्शन है ना बिजली का तार लेकिन दो दर्जन लोगों को बिजली के कनेक्शन दे दिए गए हैं।रसीद भी इन्हें जारी कर दी गई है। जबकि गांव में खंभे और तार का कहीं अता-पता नही हैं। गांव की साधना देवी,विजय, सुनीता ममता देवी,चंद्रावती,उर्मिला ,सुनीता,इंद्रावती देवी,उर्मिला देवी, ममता समेत गांव की अन्य पीड़ित महिलाओं ने कहा कि बिजली कनेक्शन की सुविधा उपलब्ध कराए‌ ही विभाग ने बील भेंज दिया।,अब तक उन्हें आपूर्ति नहीं मिल सकी है।उनका कहना है कि बिजली विभाग के अधिकारीगण को आज सूचित किया गया है ,उपभोक्ता कनेक्शन के बाद आने वाले बिजली बिल भुगतान को लेकर सशंकित हैं।उनका कहना है कि विभाग द्वारा आपूर्ति सुनिश्चित नहीं की गई।रसीद कटने के बाद बिल भुगतान को लेकर उपभोक्ता परेशान हैं।इस मामले में एसडीओ सन्तोष कुमार चौधरी का कहना है कि मामला उनकी जानकारी में आया है।मौके पर पहुंच कर यथा स्थिति देखने के बाद उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत कराकर हल कराया जायेगा और गांव के विद्युतीकरण के लिए प्रयास किया जा रहा है।