लेखपाल की मनमानी से मंदिर का रास्ता बाधित श्रद्धालुओ में आक्रोश

56

मरदह गाजीपुर।क्षेत्र के‌ रायपुर बाघपुर पण्डितपुरा गांव में स्थित हनुमान मंदिर,डीह बाबा मंदिर जाने के एक मात्र मार्ग को हल्का के चकबन्दी लेखपाल द्वारा गांव के एक व्यक्ति के निजी जमीन के रूप में नाप कर दर्शा कर रास्ते पर अतिक्रमण करवा देने मंदिर जाने का एक मात्र रास्ता बाधित है जिससे ग्रामीणो में चकबन्दी लेखपाल के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है।ग्रामीणो ने बताया कि पूर्व में राजस्व विभाग के द्वारा जमीन के नाप में खलिहान की सुरक्षित पड़ी खाली जमीन से मंदिर जाने के रास्ते की नाप की गयी थी।जिससे श्रद्धालु रोजाना मंदिर जाकर पूजा पाठ करते थे।इस समय लेखपाल द्वारा मनमाने ढंग से एक व्यक्ति विशेष के प्रभाव में नापी कर मंदिर का रास्ता बाधित करवा दिया गया है।इस मार्ग पर ग्राम प्रधान द्वारा मंदिर तकः इंटर लॉकिंग रोड का निर्माण प्रस्तवित किया गया है । उसका निर्माण कार्य भी चकबन्दी लेखपाल के अवरोध के कारण नही बन पा रहा है।गांव निवासी सीताराम पाण्डेय, चंद्रिका मौर्या,विशाल मौर्या,अमरनाथ विश्वकर्मा,देवेन्द्र विश्वकर्मा,राजेन्द्र विश्वकर्मा,कमलेश पाण्डेय,अखिलेश पाण्डेय,राजेन्द्र पाण्डेय,उदयनारायण पाण्डेय,लालचंद्र पाण्डेय,ओमप्रकाश, अनिल शर्मा,घुरफेकन मौर्य आदि ग्रामीणो ने चकबन्दी अधिकारी गाज़ीपुर सहित उच्चाधिकारियों को पत्र प्रेषित कर मंदिर के रास्ते का समाधान करने एवं चकबन्दी लेखपाल के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।लेखपाल की मनमानी से मंदिर का रास्ता बाधित श्रद्धालुओ में आक्रोश,इस संबंध में रायपुर बाघपुर के ग्राम प्रधान शिवनारायण यादव ने बताया कि मंदिर तक इंटरलाकिंग सड़क निर्माण प्रस्तावित है।विवाद का निस्तारण होते ही निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाएगा।