वंचितों व अल्पसंख्यक वर्गों को जो भी अधिकार मिला वह इंदिरा गांधी की देन :न‌ईम अहमद

162

चंदौली।संविधान की प्रस्तावना में समाजवाद और पंथनिरपेक्ष शब्द जोड़ने के लिए देश स्व.इंदिरा गांधी जी का कर्जदार रहेगा कांग्रेस बचाएगी संविधान।जिला कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग जनपद चंदौली की एक आवश्यक बैठक अल‌ईपुर पर आयोजित की गई।जिसमें संविधान में समाजवाद और पंथनिरपेक्ष शब्द जोड़े जाने की 44 वर्षगांठ पर स्व. इंदिरा जी के तस्वीर पर फूल पेश करके उनको खेराजे अकीदत पेश की।इस मौके पर अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश महासचिव एवं जनपद प्रभारी न‌ईम अहमद प्रधान ने वहां पर मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 3 जनवरी का जो यह दिन है वह ऐतिहासिक दिन है इसी दिन 1976 को भारत देश की पूर्व प्रधानमंत्री स्व.इंदिरा गांधी जी ने संविधान की प्रस्तावना में 42 वां संशोधन करके समाजवाद और पंथनिरपेक्ष शब्द को जोड़ा जो 3 जनवरी 1977 से लागू किया गया।आज वंचित तबकों और अल्पसंख्यक वर्गों को जो भी अधिकार हासिल है वह इंदिरा गांधी जी के इस कदम की देन है।आज भाजपा संविधान से इन्हीं शब्दों को हटाने की कोशिश कर रही है लेकिन कांग्रेस इस साजिश को कभी सफल नहीं होने देगी।इस मौके पर संगठन के जिला चेयरमैन औसाफ सिद्दीकी ने कहा कि इंदिरा गांधी की बहुत दूरदर्शी सोच थी जो इस संविधान की प्रस्तावना में यह दो शब्द जोड़ें आज देश में फिरकापरस्त लोग हुकूमत कर रही हैं।जो इस देश में नफरत फैलाना चाहते हैं। जगह-जगह मुस्लिम वर्ग के लोगों को प्रताड़ित किया जाता है।सिर्फ कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है जो सभी जाति धर्म वर्ग गरीब अमीर को साथ लेकर चलती है।और समाज के हर वर्ग का ध्यान रखते है।बैठक में प्रदेश महासचिव शाहिद तौसीफ,शहर चेयरमैन आफताब कुरेशी,फिरोज,अकरम,हबीब अंसारी काफी कार्यकर्ता उपस्थित थे।