आंगनबाड़ियों का प्रोत्साहन राशि के साथ बढ़ा मानदेय

233

तीसरी लहर में योगदान देने के लिए मुख्यमंत्री ने फिर से किया आह्वान

 

ग़ाज़ीपुर।बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग में कार्यरत आगनबाडी, मिनी आगनबाडी एवं सहायिका का मानदेय में बढोत्तरी के साथ ही आगनबाडी के द्वारा करोना कॉल में किए गए कार्य की प्रशंसा व तीसरी लहर के मद्देनजर एक बार फिर से आगनबाडी का योगदान को लेकर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ पूरे प्रदेश की आगनबाड़ी वर्कर के साथ लाइव प्रसारण के माध्यम से वर्चुअल सम्मेलन किया। जिसको लेकर जनपद गाजीपुर के जिला पंचायत हाल में करीब 200 आगनबाडी शामिल होकर अपने मानदेय की बढ़ोतरी पर खुशी जताई।

इस अवसर पर नगरपालिका परिषद अध्यक्ष श्रीमती सरिता अग्रवाल ने माननीय मुख्यमंत्री जी को आंगनबाड़ियों के मानदेय बढ़ोतरी पर धन्यवाद सहित आभार व्यक्त की।

 

जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप कुमार पांडे ने बताया कि 1 दिन पूर्व बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग की निदेशक सारिका मोहन का पत्र जनपद के समस्त जिलाधिकारी को आया था। उसी के क्रम में वर्चुअल सम्मेलन का आयोजन किया गया था। जिसमें करीब 200 आंगनबाड़ी और सहायिका मौजूद रही। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के द्वारा किए गए कार्यों की प्रशंसा किया एवं उनसे एक बार फिर से तीसरी लहर के मद्देनज़र उनके योगदान का आह्वान किया। ताकि हम अधिक से अधिक लोगों को राहत पहुंचा सके।

 

इस दौरान उन्होंने बताया कि आंगनबाड़ी वर्कर जिनका पूर्व में 5500 मानदेय था अब प्रोत्साहन राशि के साथ वह बढ़ाकर 8000 कर दिया गया है। वही मिनी आंगनवाड़ी का 4250 से बढ़ाकर 6000 और सहायिका का 2750 से बढ़ाकर 4000 किया गया है। जिसकी जानकारी के बाद आई हुई आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों में खुशी देखने को मिली ।सभी ने एक स्वर में आने वाले तीसरी लहर के मद्देनजर अपना पूरा योगदान करने का संकल्प लिया।