सीएमओ ने प्रेस वार्ता में साझा की क्षय रोग की उपलब्धियां

222

गाजीपुर।राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत आजादी के अमृत महोत्सव आईकोनिक वीक ऑफ हेल्थ(3 से 9 जनवरी) के अवसर पर मंगलवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय सभागार में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ हरगोविंद सिंह की अध्यक्षता में प्रेस वार्ता की गई। इसमें क्षय रोग से संबंधित पूरे साल में विभाग द्वारा किये गए कार्यों के बारे में विस्तार चर्चा की गई।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि जनपद गाजीपुर में मौजूदा समय में 2804 टीबी के मरीज हैं। इसके अलावा 425 मरीज जो लॉकडाउन के दौरान जनपद में वापस आए थे और वह अन्य जनपदों में अपना इलाज करा चुके थे, उनका भी इलाज विभाग द्वारा शुरू किया गया है। इस दौरान उन्होंने बताया कि पिछले दिनों संचारी रोग अभियान के तहत अभियान भी चलाया गया था जिसमें 43 मरीज खोजे गए थे।  सभी मरीजों का विभाग की तरफ से इलाज किया जा रहा है। इसके साथ ही निक्षय पोषण योजना के तहत मरीजों के खाते में ₹500 प्रति माह डीबीटी के माध्यम से पहुंचाया जा रहा है।

 

सीएमओ ने बताया कि क्षय रोग के मरीजों को खोजने पर आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को ₹1000 और मरीज के इलाज के बाद सही होने पर उन्हें ₹1000 दिया जाता है। क्षय रोग के मरीज के लिए निक्षय औषधि पोर्टल के माध्यम से जनपद को ऑनलाइन दवा समय-समय पर प्राप्त होती रहती हैं। इस दौरान दो हफ्ते से ज्यादा सर्दी व बुखार आ रहा है तो अपना जांच जरूर कराएं। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में विभाग के द्वारा छह माह में टीबी के मरीज सही हो जा रहे हैं।

 

जनपद में 3229 टीबी के मरीज हैं, जिसमें से 2319 का बैंक डिटेल मिले हैं। इसमें से 2041 लोगों का बैंक डिटेल सही है जिसके माध्यम से 28.22 लाख का भुगतान किया जा चुका है।